Motivation: पहले डॉक्टर फिर IAS बनी स्कूल में एवरेज रही ये लड़की, ऐसे की तैयारी|Success Story of Aparajita (IAS) - India Free Government Job Alert

Sunday, October 6, 2019

Motivation: पहले डॉक्टर फिर IAS बनी स्कूल में एवरेज रही ये लड़की, ऐसे की तैयारी|Success Story of Aparajita (IAS)

Motivation: पहले डॉक्टर फिर IAS बनी स्कूल में एवरेज रही ये लड़की, ऐसे की तैयारी


अपराजिता सिनसिनवार साल 2018 की 82वीं Rank की Topper है। 2019 में आए UPSC के रिजल्ट में अपराजिता ने 759 Candidates में से 82वां Rank हासिल किया है। हरियाणा के रोहतक की रहने वाली अपराजिता कभी School में Average Student थीं। लेकिन अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति और प्लानिंग से की तैयारी ने उन्हें कहां से कहां पहुंचा दिया, उनकी Prepration के तरीके और Hard Labour के जज्बे को देखकर आप हैरान रह जाएंगे।



25 साल की अपराजिता ने इतनी कम उम्र में इतना लंबा सफर तय किया है। उन्होंने सबसे पहले Post Graduate इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (PGIMS) से डॉक्टरी की परीक्षा दी। फिर MBBS डॉक्टर बनने के बाद उन्होंने साल 2017 में UPSC की परीक्षा दी। पहली बार में उन्हें सफलता नहीं मिली, लेकिन उन्होंने बिना हौसला डिगाये ये परीक्षा दूसरी बार फिर से दी और सफल हो गईं।


दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिए Interview में अपराजिता ने कहा कि वो शुरूआत से बहुत Brilliant नहीं थीं। स्कूल में वो अपनी क्लास में एक एवरेज स्टूडेंट भर थीं। यही नहीं उनकी hydrating भी काफी Bad थी। इसकी वजह से उन्हें बहुत कुछ सुनना पड़ता था। Teachers उनकी कॉपी पर उन्हें बहुत रिमार्क्स देते थे, एक बार तो तो टीचर को Aparajita का Hydrating समझ में नहीं आया, नंबर देने से भी मना कर दिया।


यहीं से शुरू हुआ Transformation-
बचपन में उसी दौर से अपराजिता का Transformation शुरू हुआ। उन्होंने उस दौरान प्रण किया कि अब हरहाल में वो अपनी हैंडराइटिंग सुधारकर मानेंगी। दिनरात की कोशिश के बाद उनकी हैंडराइटिंग सुधर गई और इतना ही नहीं उन्हें Best Hydrating का खिताब भी मिला। अपराजिता की निजी जिंदगी की बात करें तो उन्होंने अपने ननिहाल में रहकर पढ़ाई की है। किन्हीं कारणों से वो एक महीने की उम्र से ही ननिहाल में रहती थीं। अपराजिता ने बताया कि जब वो बहुत छोटी थीं तभी उन्होंने IAS बनने की ठान ली थी। वो बताती हैं कि एक बार वो नाना के साथ बाहर जा रही थी, तो रास्ते में किसी IAS Officer की गाड़ी देखी। उन्होंने नाना से पूछा तो उन्होंने कहा कि ये अफसर लोगों की समस्याएं सुनते हैं, तभी से उन्होंने IAS बनने की ठान ली।


अपराजिता IAS की तैयारी कर रहे लोगों के लिए एक बड़ी नजीर हैं, उनका मानना है कि इंसान अगर खुद से Commitment कर ले तो कोई भी उसके हौसले को डिगा नहीं सकता। उन्होंने इसी हौसले के साथ डॉक्टर रहते हुए Duty और UPSC की तैयारी एक साथ की। तैयारी के दौरान उन्हें चिकनगुनिया हो गया, वो ठीक हुआ तो Fracture हो गया लेकिन, तब भी वो बिना रुके पढ़ती रहीं और Exam भी दी।



यही नहीं बचपन में भी अपराजिता शारीरिक रूप से कभी बहुत Strong नहीं रहीं। शरीर से कमजोर होने के बावजूद वो पूरी लगन से काम करके जीतती रहीं, Aparajita कहती हैं कि मेरे नाम के पीछे भी यही सच्चाई है। मेरी हार न मानने के कारण ही मेरे नाना ने मेरा नाम APRAJITA रखा था और वो हमेशा मुझे याद भी दिलाते रहे।UPSC की तैयारी के दौरान भी मैंने ये ध्यान रखा कि किसी भी तरह मुझे हार नहीं माननी है।


#अपराजिता की तरह हमसबों को भी अपने ज़िंदगी मे बदलाव लाकर होशले को बुलंद रखना चाहिए।

No comments:

Post a Comment

Name of the Post: SBI Apprentice Online Form 2019

Name of the Post : SBI Apprentice Online    Form 2019 Post Date : 17-09-2019 Total Vacancy : 700 Brief Information : State Ban...